Deprecated: ltrim(): Passing null to parameter #1 ($string) of type string is deprecated in /home/b66iw6vgpr80/public_html/wp-includes/formatting.php on line 4369
Shushant singh rajput shayari

Sushant Singh Rajput Shayari | Ssr की जिंदगी पे लिखी 10 शायरियां।

Sushant singh rajput shayari | sushant की जिंदगी पे लिखी 10 शायरियां। जिन्हे पढ़ के आपको उनके दर्द का एहसास होगा। वो आज हमारे बीच नहीं हैं, वैसे तो वो हमेशा हमारे दिलों में रहेंगे मगर उनकी कमी फिर भी खलती रहेगी, उनकी ही जिन्दगी पे लिखे ये 10 शेर जो आपको रुला सकते हैं, आइए पढ़ते हैं।

Ipl new date click here

Also Read Miss you shayari | Alone missing shayari

1st Sushant Singh Rajput Shayari


Akhir zindagi ka ye kya faisla hai
Mere he haq mein nhin koi mera hai
Hoon khud se he naraaz kisi baat pe
Na apno se sikva na gairon se gila hai

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


आखिर जिंदगी का ये क्या फैसला है।
मेरे ही हक में नही कोई मेरा है।
हूं खुद से ही नाराज किसी बात पे,
ना आपने से सिकवा ना गैरों से गिला है।

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari

sad hindi shayari- जिसे बनना ही ना हो आख़िर हमसफ़र किसी का।


2nd Sushant Singh Rajput Shayari


Khaufnaak he shi magar in ankho ko koi manzar to dikhai de
Pyas meri pyas rhe lekin koi ummed ka samandar to dikhai de
Haal mera unhe nhi dikhta to na dikhe main akela tanha he shi
kam se kam unhe ghar ye be-jaan dil mera banzar to dikhai de

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


खौफनाक ही सही मगर आँखों को कोई मंज़र तो दिखाई दे।
प्यास मेरी प्यास रहे लेकिन कोई उम्मीद का समंदर तो दिखाई दे।
हाल मेरा उन्हे नहीं दिखता तो न दिखे, मैं अकेला तन्हा ही सही,
कम से कम उन्हे घर, ये बे-जान दिल मेरा बंजार तो दिखाई दे।

shayari on SSR
shayari on SSR

Read This Hindi poetry


3rd Sushant Singh Rajput Shayari


Hosh hai tujhe bhi aur hosh hai mujhe bhi
Ye na-samjhi phir yunhi barqarar rehne do
mazbur na kro mere dil ko itna ke tuut jau
Khuda ke liye ye jhuuta sa pyaar rehne do

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


होश है तुझे भी और होश है मुझे भी,
ये नासमझी फिर यूंही बरकरार रहने दो।
मजबूर ना करो दिल को इतना टूट जाऊं,
खुदा के लिए ये झूठा सा प्यार रहने दो।

shayari on SSR
shayari on SSR


4th Sushant Singh Rajput Shayari


Dard hai to dard shi baat ab khatam karo
Na baat ko badhao tum na koi baat karo
hua so hua ab kya sikva ab kya krun gila
ek kaam karo ye baat, baat he Rehne do

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


दर्द है तो दर्द सही बात अब खत्म करो।
न बात को बढ़ाओ तुम न कोई बात करो।
हुआ सो हुआ, अब क्या सिकवा गिला,
एक काम करो ये बात, बात ही रहने दो।

New Post

shayari on SSR
shayari on SSR

60+ sher-o-shayari | romantic, sad, alone, love


5th Sushant Singh Rajput Shayari


Begairat Hain wo karte hain jism ki numaindagi jo
Kahin na kahin hume bhi begairato me gina Jata hai
suna tha jannat sa haseen hai ye sara ka sara aalam
ab jana accho ko to yaha be-maut maar diya jata hai

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


बे-गैरत हैं वो करते हैं जिस्म की नुमाइंदगी जो,
कहीं न कहीं हमें भी बे-गैरतो में गिना जाता है।
सुना था जन्नत सा हसीन है ये सारा आलम,
अब जाना अच्छों को बे-मौत मार दिया जाता है।

Breakup shayari in hindi Sushant Singh Rajput Shayari

shayari on SSR
shayari on SSR


6th Sushant Singh Rajput Shayari


Main is hawa ko bhi katar chalu
Main idhar chalu main udhar chalu
hai nhi dil jaane ka yaha se mera
Nhi hai aas chalo chor shaher chalu

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


मैं हवा को भी कतर चलूं।
मैं इधर चलूं मैं उधार चलूं।
है नहीं दिल जाने का यहां से,
नहीं है आस छोड़ शहर चालू।

shayari on SSR
shayari on SSR

Ladki ko kaise impress kren shayari se


7th Sushant Singh Rajput Shayari


Hota yaqeen mileaga janam ek aur bhi
kabhi na ye duniya main chhor ke jata
aur hoti malum duniya ki haqiqat mujhe
karke khuda se duaa duniya me na aata

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


होता यकीन मिलेगा जनम एक और भी,
कभी ना ये दुनिया मैं छोड़ कर के जाता।
और होती मालूम दुनिया की हकीकत ये,
कर के खुदा से दुआ दुनिया में ना आता।

shayari on SSR
shayari on SSR

Abhi padhe sad shayari


8th
Sushant Singh Rajput Shayari

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari

Soch Kar bhi kya mila hai har drd Ka ye sila hai
Zindagi to zindagi, hai kya khoya kya mila hai

shayari on SSR
shayari on SSR

सोच कर भी क्या मिला है हर दर्द का ये सिला है।
जिंदगी तो जिंदगी है, क्या खोया क्या मिला है।

Bewafa shayari in hindi | bewafa gf // ise bhi padhe


9th Sushant Singh Rajput Shayari


Teri shaan se meri Shaan hai, meri shaan bhi kya shaan hai
Tu arz Kar mere is dard par, musibat me meri ye Jaan hai
main chalu chor ke nhi abhi mujhme hai itni taaqat yaaron
chala gya chhor ke apno ka karam apno ka ehsaan hai

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari


तेरी शान से मेरी शान है, मेरी शान भी क्या शान है।
तू अरज़ कर मेरे इस दर्द पर, मुसिबत में मेरी ये जान है।
मैं चलूं छोड़ के नहीं अभी मुझ में है इतनी ताक़त यारों,
चला गया छोड़ के अपनो का करम अपना का एहसान है।

Shayari on SSR
Shayari on SSR

Pyaar ka izhaar shayari padhe aur propose kren


10th Sushant Singh Rajput Shayari


Door hone ke baad meri khabar rakho mujhe manzuur nhi
Mere haal mere dard-e-dil pe nazar rakho mujhe manzuur nhi
Huye marzi se Juda humse to ab Khush raho apne faisle pe
Kisi aur ke khyaal ke sath Mera khyaal agar rakho mujhe manzuur nhi

Sushant singh rajput shayari
Sushant singh rajput shayari

दूर होने के बाद मेरी खबर रखो मुझे मंजूर नहीं।
मेरे हाल मेरे दर्द-ए-दिल पे नज़र रखो मुझे मंजूर नहीं।
हुए मर्जी से जुदा हमसे तो खुश रहो अपने फैसल पे,
किसी और के साथ मेरा ख्याल अगर रखो मुझे मंजूर नहीं।

Shayari on SSR
Shayari on SSR

SSR Shayari all in sequals.

1.
Akhir zindagi ka ye kya faisla hai
Mere he haq mein nhin koi mera hai
Hoon khud se he naraaz kisi baat pe
Na apno se sikva na gairon se gila hai

2.
Khaufnaak he shi magar in ankho ko koi manzar to dikhai de
Pyas meri pyas rhe lekin koi ummed ka samandar to dikhai de
Haal mera unhe nhi dikhta to na dikhe main akela tanha he shi
kam se kam unhe ghar ye be-jaan dil mera banzar to dikhai de


  1. Hosh hai tujhe bhi aur hosh hai mujhe bhi
    Ye na-samjhi phir yunhi barqarar rehne do
    mazbur na kro mere dil ko itna ke tuut jau
    Khuda ke liye ye jhuuta sa pyaar rehne do

4.
Dard hai to dard shi baat ab khatam karo
Na baat ko badhao tum na koi baat karo
hua so hua ab kya sikva ab kya krun gila
ek kaam karo ye baat, baat he Rehne do

5.
Begairat Hain wo karte hain jism ki numaindagi jo
Kahin na kahin hume bhi begairato me gina Jata hai
suna tha jannat sa haseen hai ye sara ka sara aalam
ab jana accho ko to yaha be-maut maar diya jata hai

6.
Main is hawa ko bhi katar chalu
Main idhar chalu main udhar chalu
hai nhi dil jaane ka yaha se mera
Nhi hai aas chalo chor shaher chalu

7.
Hota yaqeen mileaga janam ek aur bhi
kabhi na ye duniya main chhor ke jata
aur hoti malum duniya ki haqiqat mujhe
karke khuda se duaa duniya me na aata

8.
Soch Kar bhi kya mila hai har drd Ka ye sila hai
Zindagi to zindagi, hai kya khoya kya mila hai

9.
Teri shaan se meri Shaan hai, meri shaan bhi kya shaan hai
Tu arz Kar mere is dard par, musibat me meri ye Jaan hai
main chalu chor ke nhi abhi mujhme hai itni taaqat yaaron
chala gya chhor ke apno ka karam apno ka ehsaan hai

10.
Door hone ke baad meri khabar rakho mujhe manzuur nhi
Mere haal mere dard-e-dil pe nazar rakho mujhe manzuur nhi
Huye marzi se Juda humse to ab Khush raho apne faisle pe
Kisi aur ke khyaal ke sath Mera khyaal agar rakho mujhe manzuur nhi


Sushant Singh Rajput Shayari all in sequals.

1.
आखिर जिंदगी का ये क्या फैसला है।
मेरे ही हक में नही कोई मेरा है।
हूं खुद से ही नाराज किसी बात पे,
ना आपने से सिकवा ना गैरों से गिला है।

2.
खौफनाक ही सही मगर आँखों को कोई मंज़र तो दिखाई दे।
प्यास मेरी प्यास रहे लेकिन कोई उम्मीद का समंदर तो दिखाई दे।
हाल मेरा उन्हे नहीं दिखता तो न दिखे, मैं अकेला तन्हा ही सही,
कम से कम उन्हे घर, ये बे-जान दिल मेरा बंजार तो दिखाई दे।

3.
होश है तुझे भी और होश है मुझे भी,
ये नासमझी फिर यूंही बरकरार रहने दो।
मजबूर ना करो दिल को इतना टूट जाऊं,
खुदा के लिए ये झूठा सा प्यार रहने दो।

4.
दर्द है तो दर्द सही बात अब खत्म करो।
न बात को बढ़ाओ तुम न कोई बात करो।
हुआ सो हुआ, अब क्या सिकवा गिला,
एक काम करो ये बात, बात ही रहने दो।

5.
बे-गैरत हैं वो करते हैं जिस्म की नुमाइंदगी जो,
कहीं न कहीं हमें भी बे-गैरतो में गिना जाता है।
सुना था जन्नत सा हसीन है ये सारा आलम,
अब जाना अच्छों को बे-मौत मार दिया जाता है।

6.
मैं हवा को भी कतर चलूं।
मैं इधर चलूं मैं उधार चलूं।
है नहीं दिल जाने का यहां से,
नहीं है आस छोड़ शहर चालू।

7.
होता यकीन मिलेगा जनम एक और भी,
कभी ना ये दुनिया मैं छोड़ कर के जाता।
और होती मालूम दुनिया की हकीकत ये,
कर के खुदा से दुआ दुनिया में ना आता।

8.
सोच कर भी क्या मिला है हर दर्द का ये सिला है।
जिंदगी तो जिंदगी है, क्या खोया क्या मिला है।


kala paani jail में होते थे | औरतों के साथ कैसे कैसे गंदे काम।

Ek tarfa pyaar shayari in hindi

Naraazgi shayari in hindi

yaad shayari in hindi

pyaar bhari shayari in hindi

Hindi shayari intezaam sab kar liye sone ke (very sad aur dard bhari shayari)

This blog written with help of face to face poetry

Also Read:-

https://www.facetofacepoetrys.com/sher/shero-shayari/

https://www.facetofacepoetrys.com/gazal/miss-you-shayari/

https://www.facetofacepoetrys.com/gazal/hindi-poetry/

Our exclusive Blogs :-

Pubg mobile india Release date

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don't Give-up Poetry Previous post English Poem – Poetry in English | Still Poetry in English
zindagi Next post Instagram Post Shayari | 2 line Shayari-Instagram Shayari in Hindi