mir taqi mir

Mir Taqi Mir Shayari in Hindi / best Shayari of meer taqi meer

0 0
Read Time:5 Minute, 18 Second

mir taqi mir Shayari in Hindi Sad

mir taqi mir shayari in hindi hindi

In this Post you all have to read:-

1.mir taqi mir shayari in hindi
2.mir taqi mir dard shayari in hindi
3.best shayari of meer taqi meer in hindi
4.mir taqi mir heart broken shayari in hindi
5.mir taqi mir shayari in hindi text


1. mir taqi mir shayari in hindi

आग-सा तू जो हुआ ऐ गुले तर आन के बीच
सुबह की बाव ने क्या फूंक दिया कान के बीच

हाल गुलज़ारे ज़माना का है जैसे कि शफ़क़
रंग कुछ और ही हो जाए है इक आन के बीच

ताक” की छांव में जूं मस्त पड़े सोते हैं
ऐंडती हैं निगहें? साया ए मिज़शगान के बीच

हम न कहते थे कहीं जुल्फ़’ कहीं रुख” न दिखा
इक ख़िलाफ़ ” आया न हिन्दू ओ मुसलमान के बीच

बावजूद ए मिलकियत ” न मलक” में पाया
वो तक़दुस ” कि जो है हज़रते इंसान के बीच

जैसी इज़्ज़त मेरी दीवां में अमीरों के हुई
वैसी ही उनकी भी होगी मेरे दीवान के बीच

घर में आईने के कब तक तुम्हें नाज़ां देखूं
कभी तो आओ मेरे दीद ए हैरान के बीच

Mir Taqi Mir Shayari


1. ताजा फूल 2. क्षण 3. प्रातःकाल की हवा 4. बागुरूपी संसार 5. अरुणिमा 6. अंगूर की बेल 7. दृष्टि 8. पलकों का साया 9. बालों की लट 10. चेहरा 11. विरोध 12. फरिश्तापन के बाद भी 13. फ़रिश्ता 14. पवित्रता 15. मानव 16. राजलों का संग्रह 17. नाज करते हुए 18. आश्चर्य में डूबी हुई आंखें।


2. mir taqi mir dard shayari in hindi

अल्लाह रे गुरूर ए नाज़ तेरा
मुतलक़ नहीं हमसे साज़ तेरा

हमसे कि तुझी को जानते हैं
जाता नहीं एहतेराज़ तेरा

मिल जिनसे शराब तू पिये है
कह देते हैं वो ही राज़ तेरा

कुछ इश्क़ ओ हवस’ में फ़र्क़ भी कर
किधर है वो इम्तियाज़ तेरा

कहते न थे ‘मीर’ मत कुढ़ा कर
दिल हो न गया गुदाज़ तेरा


1. घमण्ड 2. बिल्कुल 3. मेल 4. हस्तक्षेप 5. भेद 6. प्रेम और लोलुपता 7. अन्तर ४. कोमल

3.best shayari of mir taqi mir in hindi

अब तो चुप लग गयी है हैरत’ से
फिर खुलेगी जुबान जब की बात

नुक्ता दानाने रफ़्ता की न कहो
बात वो है जो होवे अब की बात

किसका रू ए सुख़न नहीं है इधर
है नज़र में हमारी सब की बात

जुल्म है क़हर है क़यामत है
गुस्से में उसके ज़ेरे लब’ की बात

Mir Taqi Mir Shayari


1. आश्चर्य 2. कला मर्मज्ञ 3. सम्बोधन 4. विपत्ति 5. प्रलय 6. होठों ही होठों में।


4.mir taqi mir heart broken shayari in hindi

अब के बहुत है शोरे बहारां हमको मत जंजीर करो
दिल से हवस’ टुक हम भी निकालें धूमें हमको मचाने दो

अरसा कितना सरे जहां का वहशत’ पर जो आ जावें
पांव तो हम फैला देंगे, पर फुर्सत हमको पाने दो

क्या जाता है इसमें हमारा चुपके हम तो बैठे हैं
दिल जो समझना था सो समझा, नासेह” को समझाने दो

बात बनाना मुश्किल-सा है, शे’र सभी यां कहते हैं
फ़िके बलन्द’ से यारों को इक ऐसी ग़ज़ल कहलाने दो


1. बहारों का शोर 2. लोलुपता 3. अवधि 4. संसार 5. पागलपन 6. उपदेशक 7. उच्च कल्पना


5.meer taqi meer shayari in hindi text

अल्लाह रे अन्दलीब की आवाज़े दिलख़राश
जी ही निकल गया जो कहा उन ने हाय गुल

मक़दूर तक शराब से रख अंखड़ियों में रंग
ये चश्मके प्याला” है साक़ी हवा ए गुल

बुलबुल हज़ार जी से ख़रीदार उसकी है
ऐ गुलफ़रोश” करियो समझकर बहा ए गुल

गुलचीं समझ के चुनियो कि गुलशन में ‘मीर’ के
लख़्ते जिगर’ पड़े हैं नहीं बर्ग हाए गुल

Mir Taqi Mir Shayari


1. बुलबुल 2. दिल को चीर देने वाली आवाज़ 3. साहस 4. प्याले का इशारा 5. फूल की इच्छा 6. फूल बेचने वाला 7. फूल का मूल्य 8. फूल तोड़ने वाला 9. जिगर का टुकड़ा 10. फूल की कलियां।


Also Read:-

Miss You Shayari | Alone missing | One-Sided
Hindi Kavita | हिंदी कविता | Hindi Kavitayen best romantic sad.
Love English Poem, Sad English Poem, Alone English Poetry.
Hindi Poetry | world’s best poetry | all-time favorite Hindi poetry.
Shero Shayari in hindi Sher o Shayari शेरो शायरी Shero Shayari Status
sad Shayari in Urdu-Urdu sad Shayari in Hindi emotional
Bewafa shayari in hindi and urdu-best bewafa shayari for gf

Shayari for Bewafa gf – Hindi Urdu bewafa poetry for girlfriend Mir Taqi Mir Shayari

Want to Read More Interesting Blogs viralwings.in

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
100 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %