Gazal

Urdu Shayari for Love – Best Urdu Poetry – उर्दू शायरी In Hindi

Urdu Shayari for Love / urdu shayari on love / Urdu Shayari on Mohabbat / Urdu Shayari Sad / Shayari for Love

Urdu Shayari for Love
Urdu Shayari for Love

*Urdu Shayari for Love in Hinglish

Vo galiya vo galiyo me dhalti shaam
Hongi teri yaade rahe Jayega tera naam

Vo kaasi ke paani me milta tera aksh
Vo brizkul me tera ghumna shar-e-aam

Feeka sa ho jayega har manzar waha ka
na parindo ko sukuun na hawao ko mileaga araam

Kash mera bhi chota sa ghar Hota tere mohalle me
Tere intezaar me guzaar deta umr tamaam

Teri galiyo ke lagata fere Teri khidki ko nihaarta
Subha-shaam bas hota yahi Mera kaam

Banaras ki vo gali aur us gali me tera paigaam
Rahe Jayega udaas mausam na hogi pehle si shaam

Urdu Shayari for Love in Hindi

Romantic gazal

वो गलियां वो गलियों में ढलती शाम
होंगी तेरी यादें रहे जायेगा तेरा नाम

वो काशी के पानी में मिलता तेरा अक्श
वो ब्रिजकुल में तेरा घूमना सर-ए -आम

फीका सा हो जायेगा हर मंज़र वहाँ का
न परिंदो को सुकून न हवाओं को आराम

काश मेरा भी घर होता तेरे मोहल्ले में
तेरे इंतज़ार में गुज़ार देते उम्र तमाम

तेरे गलियों के लगाता फेरे खिड़की को निहारता
सुबह शाम होता बस यही मेरा काम

बनारस की वो गली और उस गली में तेरा पैगाम
रह जायेगा उदास मौसम न होगी पहले सी शाम

Urdu Shayari on Mohabbat in Hinglish

Urdu Shayari on Mohabbat in Hinglish
Urdu Shayari on Mohabbat in Hinglish

Sayad he koi bacha hoga us nazar ke qaher se
Jo khud bachti rehti hai apne he shaher se

Jab vo saadgi se baithati hogi ru-ba-ru aaine ke
Soch ke jalta hu dekhta hoga aaina jane kis nazar se

Maine dekha to nhi use magar aarzu ki hai bahut
Kahin jaan he na chali jaye unke dedaar ki khabar se

Raat ki ibadat Jo hai washl ki raat ki tarah sanam
Na Kar aur betaab guzar na jaye pal agar magar se

Tujhsa Jo rahebar mila mujhe khuda ki kasam
Mohabbat ho gai Rehaan ko is anjaan safar se

Urdu Shayari on Mohabbat in Hindi

Hindi gazal

शायद ही कोई बचा होगा उस नज़र के क़हर से
जो खुद बचती रहती है अपने ही शहर से

जब वो सादगी से बैठती होगी रु-वा -रु आईने के
सोच के जलता हूँ देखता होगा जाने किस नज़र से

मैंने देखा तो नहीं उसे मगर आरज़ू बहुत की
कहीं जान ही न चली जाये उनके दीदार की खबर से

रात की इबादत जो है वशल की रात की तरह सनम
न कर और बेताब गुज़र न जाये पल अगर मगर से

तुझसा जो रहबर मिला मुझे खुदा की कसम
मोहब्बत हो गई रेहान को इस अनजान सफर से

Urdu Shayari Sad in Hinglish

Urdu Shayari Sad in Hinglish

Waqt ki pawandi ho to koi paigaam dete jana
Na ho wapis aane ka irada to dil ko araam dete Jana

Rahunga tere intezaar mein hai mujhko ye yaqeen
Rakhna ho apni yaadon se duur to ilzaam dete jana

Tere sitam bhi dil ko khuub bhaate hai mere sanam
Jaate jaate phir koi zakhm-e-inaam dete jana

Hatho me hath rakh ke diye bahut he naam mujhe
Ab is judaai ke aalam me bhi koi naam dete jana

Be-rukhi se jana tera saha na jayega Rehaan se
Ek karam ki nazar ek jhuta he shi salaam dete jana

Urdu Shayari Sad in Hindi

Urdu Shayari Sad in Hindi

वक़्त की पावंदी हो तो कोई पैगाम देते जाना
ना हो वापिस आने का इरादा तो आराम देते जाना

रहूँगा तेरे इंतज़ार में है मुझको ये यक़ीन
रखना हो अपनी यादों से दूर तो इलज़ाम देते जाना

तेरे सितम भी दिल को खूब भाते है मेरे सनम
जाते-जाते फिर कोई ज़ख्म-ए -इनाम देते जाना

हाथों में हाथ रख के दिए बहुत ही नाम मुझे
अब इस जुदाई के आलम में भी कोई नाम देते जाना

बे-रूखी से जाना तेरा सहा ना जायेगा रेहान से
एक करम की नज़र एक झूठा ही सही सलाम देते जाना

Also Read Urdu Shayari for Love

किसी सूफ़ी कलाम सी तेरी परछाई
ढलती हुई सी रात ने बात ख़राब कर दी।
जब मेरा मुंसिफ ही मेरा क़ातिल हो।
हमने भी बेशुमार पी है ! नज़रों के प्यालों से।
तेरे हुस्न की तस्वीरों का आखिर …
इंतेजाम सब कर लिए सोने के अब नींद भी आ जाये तो करम होगा।
जिसे बनना ही ना हो आख़िर हमसफ़र किसी का।
क्या सितम है के उन्हें नजरें मिलाना  भी  नही  आता। 
खयालों में तो रोज़ ही मिलते हो आके।

Follow us on Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *