Gazal

Raat hindi shayari ek bahut he khubsurat gazal. ढलती हुई सी रात ने बात ख़राब कर दी।

0 0
Read Time:2 Minute, 25 Second

raat pe shayari // shayari on raat // raat ki shayari // Raat hindi shayari

ढलती  हुई सी रात ने  बात  ख़राब कर  दी।

रू-ब-रू  उनके  चाहत  बे-नकाब  कर   दी।

आने  लगी  हिचकियां   उनके  सामने  मुझे,

किसकी याद ने ये ख़ामोशी बेताब  कर  दी। raat shayari raat pe shayari

मय-खाना सिर्फ  उनकी  नज़रों  में  नहीं  है,

उनकी  मुस्कुराहट  ने  शाम  शराब  कर दी।

वर्षो के  इंतज़ार का  हुआ मुझ  पे ये  असर,

एक दिन में जाहिर चाहत बेहिसाब कर  दी।

सादगी  तेरी  पाकीज़गी  ने  ये  क्या  किया,

वीरान  मेरी  रूठी   ज़िंदगी  मेहराब कर दी। raat hindi shayari

समझ के बेचैनी मेरी  रखा जो हाथ  दिल पे,

सोच में था मैं और उसने  कामयाब  कर दी।

उसकी चाहत, कुरबत ने उस से  दूर  होने के,

ख्याल ने नींद रेहान की  बद-ख़्वाब  कर दी।

raat hindi shayari
Raat hindi shayari

raat hindi shayari in Hinglish

Dhalti   hui   raat   ne   baat   khraab   kar   di
Ru-ba-ru   unke   chahat    be-naqab   kar  di raat shayari

Aane   lagi   hichkiya   unke  saamne   mujhe
kiski  yaad   ne   khamoshi   betaab    kar   di

mae-khana   sirf  unki   nazro   mein  nhi  hai
unki  muskurahat  ne  shaam  shraab  kar  di

barso ke intezaar ka  hua   mujhpe   ye   asar
ek    din    mein     zahir     be-hisaab  kar   di

saadgi   teri    pakeezgi    ne    ye   kya    kiya
veeran  meri  ruthi  zindagi  mehraab  kar  di

samajh  ke  be-chaini  jo  rakha  hath  dil  pe
soch mein tha main aur usne kamyaab kar di raat hindi shayari

uski  chahat  qurbat  ne  us  se  door hone ke
khyaal neneed rehaan ki  bad-khvaab  kar  di

Raat hindi shayari
Raat hindi shayari

Also Read

किसी सूफ़ी कलाम सी तेरी परछाई
जब मेरा मुंसिफ ही मेरा क़ातिल हो।
हमने भी बेशुमार पी है ! नज़रों के प्यालों से।
तेरे हुस्न की तस्वीरों का आखिर …
इंतेजाम सब कर लिए सोने के अब नींद भी आ जाये तो करम होगा।
जिसे बनना ही ना हो आख़िर हमसफ़र किसी का।

क्या सितम है के उन्हें नजरें मिलाना  भी  नही  आता। 

Read more raat ki shayari     Click here 

follow on INSTGRAM

On Instagram, you can read easily and very quickly Hindi poetry with images.

Drop your comments and ask for your favorite poetry.

[spbsm-share-buttons]

[spbsm-follow-buttons]

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

50 thoughts on “Raat hindi shayari ek bahut he khubsurat gazal. ढलती हुई सी रात ने बात ख़राब कर दी।

  1. […] ढलती हुई सी रात ने बात ख़राब कर दी।जब मेरा मुंसिफ ही मेरा क़ातिल हो।हमने भी बेशुमार पी है ! नज़रों के प्यालों से।तेरे हुस्न की तस्वीरों का आखिर …इंतेजाम सब कर लिए सोने के अब नींद भी आ जाये तो करम होगा।जिसे बनना ही ना हो आख़िर हमसफ़र किसी का। […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.